1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे 01 मई को संभालेंगे सेना प्रमुख की कुर्सी

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे 01 मई को संभालेंगे सेना प्रमुख की कुर्सी

साउथ ब्लॉक लॉन, गेट नंबर 2 के पास गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा, लेफ्टिनेंट जनरल बग्गवल्ली सोमशेखर राजू होंगे थलसेना के उप प्रमुख

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 29 अप्रैल। भारतीय थलसेना के मौजूदा उप प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे 01 मई को सुबह 09:30 बजे सेना प्रमुख का औपचारिक रूप से कार्यभार संभालेंगे। 09:40 बजे साउथ ब्लॉक लॉन, गेट नंबर 2 के पास गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा। रविवार को ही लेफ्टिनेंट जनरल बग्गवल्ली सोमशेखर राजू थलसेना के उप प्रमुख के रूप में पदभार ग्रहण करेंगे। मौजूदा सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे शनिवार को सेवानिवृत्त हो जाएंगे।

पढ़ें :- Army Chief : लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे होंगे देश के अगले सेना प्रमुख, लेंगे सेना प्रमुख एमएम नरवणे की जगह

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे को भारतीय सेना का अगला प्रमुख नियुक्त किया गया है। रक्षा मंत्रालय ने 18 अप्रैल को सेना के वाइस चीफ लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे को अगले सेनाध्यक्ष के रूप में नियुक्त करने के फैसले की घोषणा की थी। जनरल मनोज पांडे 01 मई को सुबह 09:30 बजे सेना प्रमुख का औपचारिक रूप से कार्यभार संभालेंगे। 09:40 बजे साउथ ब्लॉक लॉन, गेट नंबर 2 के पास गार्ड ऑफ ऑनर दिया जाएगा। जनरल पांडे ने सेना के 43वें वाइस चीफ की कुर्सी 01 फरवरी, 2022 को संभाली थी। देश के मौजूदा थल सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे 30 अप्रैल को अपना 28 महीने का कार्यकाल पूरा करेंगे।

सेना के 43वें वाइस चीफ बनने वाले लेफ्टिनेंट जनरल बग्गवल्ली सोमशेखर राजू सैनिक स्कूल बीजापुर और राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के पूर्व छात्र हैं। उन्हें 15 दिसंबर, 1984 को जाट रेजिमेंट में कमीशन किया गया था। उन्होंने पश्चिमी थियेटर और जम्मू-कश्मीर में ऑपरेशन पराक्रम के दौरान अपनी बटालियन की कमान संभाली। उन्हें नियंत्रण रेखा के साथ उरी ब्रिगेड, एक काउंटर इंसर्जेंसी फोर्स और कश्मीर घाटी में चिनार कॉर्प्स की कमान संभालने का गौरव भी प्राप्त है। जनरल ऑफिसर ने भूटान में भारतीय सैन्य प्रशिक्षण दल के कमांडेंट के रूप में भी काम किया है।

अपने 38 वर्षों के शानदार करियर के दौरान लेफ्टिनेंट जनरल ने सेना मुख्यालय में कई महत्वपूर्ण रेजिमेंट, स्टाफ और निर्देशात्मक नियुक्तियां संभाली हैं। वह फील्ड फॉर्मेशन में सैन्य सचिव शाखा में कर्नल सैन्य सचिव कानूनी, व्हाइट नाइट कॉर्प्स के ब्रिगेडियर जनरल स्टाफ और उप महानिदेशक सैन्य अभियान और महानिदेशक स्टाफ कर्तव्य पदों पर भी रहे हैं। उप थल सेनाध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभालने से पहले जनरल ऑफिसर एलएसी पर चीन के साथ गतिरोध के दौरान डायरेक्टर जनरल मिलिट्री ऑपरेशंस पद पर कार्य कर रहे थे।

लेफ्टिनेंट जनरल बग्गवल्ली सोमशेखर राजू योग्य हेलीकॉप्टर पायलट हैं और उन्होंने यूएनओएसओएम II के हिस्से के रूप में सोमालिया में परिचालन उड़ान भरी है। वह जाट रेजीमेंट के कर्नल भी हैं। लेफ्टिनेंट जनरल राजू ने भारत में सभी महत्वपूर्ण करियर पाठ्यक्रमों में भाग लिया है और रॉयल कॉलेज ऑफ डिफेंस स्टडीज, यूनाइटेड किंगडम में एनडीसी की है। उन्होंने नेवल पोस्टग्रेजुएट स्कूल, मॉन्टेरी, संयुक्त राज्य अमेरिका में काउंटर टेररिज्म में एक विशिष्ट मास्टर प्रोग्राम की डिग्री भी प्राप्त की है। सेना में शानदार योगदान के लिए उन्हें उत्तम युद्ध सेवा पदक, अति विशिष्ट सेवा पदक और युद्ध सेवा पदक से सम्मानित किया गया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...