1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. धोनी को सता रहा घुटनों का दर्द, 40 रुपये में वैद्य से करा रहे इलाज

धोनी को सता रहा घुटनों का दर्द, 40 रुपये में वैद्य से करा रहे इलाज

आपको जानकार हैरान होगी कि देश के पूर्व कप्तान करोड़ों की संपत्ति होने के बावजूद अपना इलाज एक वैद्य से करवा रहे हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

रांची। देश के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी इन दिनों घुटनों के दर्द से परेशान हैं। लेकिन आपको ये जानकर हैरानी होगी कि वह अपना इलाज विदेश के किसी नामी अस्पताल से कराने के बजाय एक वैद्य से करा रहे हैं। जी हां, आपको बता दें कि चालीस रुपये में वैद्य वंदन सिंह से घुटनों के दर्द का इलाज करा रहे है। महेंद्र सिंह धोनी घुटने के दर्द से परेशान हैं और वह अपना इलाज लापुंग के जंगली इलाके के बाबा गलगली धाम के कातिंगकेला में बैठने वाले वैद्य वंदन सिंह खेरवार से करवा रहे हैं।

पढ़ें :- लखनऊ में रसोई गैस सिलेंडर फटने से 1 की मौत, 5 गंभीर रूप से घायल

वैद्य ने बताया कि लगभग एक महीने से धोनी उनकी दवाएं ले रहे हैं। वे हर 4 दिन में जड़ी-बूटियां लेने आश्रम आते हैं। वैद्य ने बताया कि धोनी जब पहली बार उनके पास आए तो वह उन्हें पहचान ही नहीं पाए। साथ में आए लोगों ने जब परिचय कराया तब पता चला कि वे तो धोनी हैं, जिन्हें उन्होंने टीवी पर बल्ला घुमाते देखा है। धोनी जिस दिन आश्रम आते हैं वहां लोगों की काफी भीड़ हो जाती है।

वैद्य ने कहा कि धोनी ने विस्तार से उन्हें अपनी तकलीफ बताई। कैल्शियम की कमी के कारण उनके दोनों घुटनों में दर्द है। जिससे उन्हें चलने में तकलीफ होती है। वैद्य ने बताया कि इलाज के लिए वे सिर्फ 20 रुपए फीस लेते हैं और 20 रुपए की दवा देते हैं। उन्होंने मुस्कुराते हुए कहा कि धोनी एक ईमानदार मरीज की तरह अपने 40 रुपए खुद देते हैं। उन्होंने बताया कि धोनी पिछली बार 26 जून को उनके पास आए थे।

वैद्य वंदन ने बताया कि धोनी के माता-पिता भी उनकी दवा ले चुके हैं। उन्होंने कहा कि दोनों को घुटने में समस्या है और पिछले तीन महीने से उनका इलाज कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि माता-पिता को इलाज से आराम है, इसलिए धोनी भी उनके पास आ रहे हैं। वैद्य वंदन ने बताया कि धोनी जब भी आते हैं तो उनके साथ फोटो खिंचवाने वालों की भीड़ लग जाती है। यही वजह है कि वह आने पर गाड़ी से बाहर नहीं आते हैं। उन्हें दवा गाड़ी तक ही पहुंचा दी जाती है। धोनी दवा पीते हैं। गांव वालों के साथ खुद मोबाइल पकड़कर तस्वीर खिंचवाते हैं।

 

पढ़ें :- उड़िया गायक मुरली महापात्रा का निधन, दुर्गा पूजा कार्यक्रम में प्रदर्शन के दौरान मंच पर गिरे थे

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...