Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. अधिकारियों ने वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट की कार्यप्रणाली को समझा, मंत्री ने बताया- कैसे मिलता है दिल्लीवासियों को साफ पानी

अधिकारियों ने वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट की कार्यप्रणाली को समझा, मंत्री ने बताया- कैसे मिलता है दिल्लीवासियों को साफ पानी

बुधवार को केंद्र सरकार, यूनिसेफ एवं WHO के अधिकारियों ने सोनिया विहार वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट एवं वजीराबाद वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट की कार्यप्रणाली को समझने के लिए मंत्री सौरभ भारद्वाज के साथ वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट का दौरा किया I सभी अधिकारी दिल्ली जल बोर्ड की कार्यप्रणाली को देखकर यह समझना चाहते थे कि किस प्रकार से दिल्ली सरकार एवं दिल्ली जल बोर्ड इतने बड़े स्तर पर  इतनी बड़ी जनसंख्या को स्वच्छ पानी उपलब्ध करता है ।

By Rakesh 

Updated Date

नई दिल्ली। बुधवार को केंद्र सरकार, यूनिसेफ एवं WHO के अधिकारियों ने सोनिया विहार वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट एवं वजीराबाद वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट की कार्यप्रणाली को समझने के लिए मंत्री सौरभ भारद्वाज के साथ वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट का दौरा किया I सभी अधिकारी दिल्ली जल बोर्ड की कार्यप्रणाली को देखकर यह समझना चाहते थे कि किस प्रकार से दिल्ली सरकार एवं दिल्ली जल बोर्ड इतने बड़े स्तर पर  इतनी बड़ी जनसंख्या को स्वच्छ पानी उपलब्ध करता है ।

पढ़ें :- नई दिल्लीः BJP ने AAP पर किया पलटवार, कहा- भ्रष्टाचार पर लीपापोती की बजाए अपने विभाग पर ध्यान दें मंत्री आतिशी

इसके पहले सोनिया विहार वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में सभी अधिकारियों संग बैठक की गई I बैठक में जल बोर्ड के अधिकारियों द्वारा वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट की कार्यप्रणाली के संबंध में प्रजेंटेशन प्रस्तुत की गई, जिसमें विस्तार से यह समझाया गया कि दिल्ली जल बोर्ड किस प्रकार से पानी को स्वच्छ बनाने के लिए काम करता है।

बैठक में यह भी बताया गया कि दिल्ली जल बोर्ड को किन-किन स्रोतों के माध्यम से पानी प्राप्त होता है। साथ ही साथ यह भी बताया गया कि उस पानी को स्वच्छ करने के लिए दिल्ली जल बोर्ड के वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में क्या प्रक्रिया अपनाई जाती है । कितनी लैब दिल्ली जल बोर्ड के वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में तथा अन्य जगहों पर स्थापित है और किस प्रकार से उन सभी टेस्टिंग लैब में पानी के मानकों को मापने की प्रक्रिया का क्रियान्वयन किया जाता है।

दिल्ली की लगभग 2.5 करोड़ जनता को मिलता है पीने का साफ पानी

मंत्री सौरव भारद्वाज ने बताया कि दिल्ली जल बोर्ड को गंगा, यमुना एवं ग्राउंडवाटर द्वारा पानी प्राप्त होता है, जिसको दिल्ली जल बोर्ड के वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में चल रही प्रक्रियाओं के तहत स्वच्छ बनाया जाता है और घर-घर तक पहुंचाने का काम किया जाता है I मंत्री सौरभ भारद्वाज ने बताया कि दिल्ली जल बोर्ड  दिल्ली की लगभग 2.5 करोड़ जनता को घर-घर तक पीने का पानी पहुंचता है।

पढ़ें :- चंडीगढ़ मेयर चुनाव पर ‘आप’ का आरोपः सच छिपाने को भाजपा ने की ‘आप’ के प्रदर्शन को विफल करने की कोशिश

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से वादा किया था  कि घर-घर तक पीने का स्वच्छ पानी टंकी के जरिए पहुंचाया जाएगा। इस वादे को ध्यान में रखते हुए दिल्ली सरकार द्वारा लगभग पूरी दिल्ली में पानी की पाइपलाइन बिछा दी गई है I जल मंत्री ने बताया कि सभी अधिकारी वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट में स्थित दिल्ली जल बोर्ड की टेस्टिंग लैब में भी पहुंचे ।

दिल्ली जल बोर्ड के पास लगभग 8 जोनल लैब

उन्होंने बताया कि दिल्ली जल बोर्ड के पास लगभग 8 जोनल लैब है, जिनमें से पांच लैब ISO से मानक प्राप्त हैं, तथा 3 लैब NABL से मान्यता प्राप्त हैं।  उन्होंने बताया कि इन सभी लैब में निरंतर रूप से पानी के सैंपलों की जांच होती रहती है और पानी की गुणवत्ता को बनाए रखने पर निरंतर कार्य होता रहता है।

मंत्री सौरव भारद्वाज ने बताया कि इन सभी टेस्टिंग लैब में चल रही कार्य प्रणाली की निगरानी के लिए दिल्ली जल बोर्ड का एक DTQC नामक विभाग है जो इन सभी टेस्टिंग लैब में चल रहे कार्यों की निगरानी करता है ।

पढ़ें :- हरियाणाः पानी के लिए लघु सचिवालय के बाहर धरने पर बैठे किसान
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com