1. हिन्दी समाचार
  2. ख़बरें जरा हटके
  3. Tsunami Threat : प्रशांत महासागर में सूनामी का खतरा टला, टोंगा के ऊपर दिखे राख के बादल

Tsunami Threat : प्रशांत महासागर में सूनामी का खतरा टला, टोंगा के ऊपर दिखे राख के बादल

न्यूजीलैंड ने कहा है कि द्विपीय देश टोंगा के ऊपर ज्वालामुखी से निकली राख के 63,000 फीट मोटे बादल बन जाने से निगरानी विमान उड़ान नहीं भर पा रहे हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

वेलिंगटन, 16 जनवरी। न्यूजीलैंड के पास स्थित द्विपीय देश टोंगा में समुद्र के भीतर ज्वालामुखी फटने के बाद प्रशांत महासागर में जताया गया सूनामी का खतरा टल गया है। हालांकि ज्वालामुखी फटने के बाद टोंगा के ऊपर राख के बादल देखे गए हैं। न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने कहा है कि अभी तक टोंगा में किसी की मृत्यु या घायल होने की आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है।

पढ़ें :- Mansoon : पश्चिमी विक्षोभ के कारण अगले 3-4 दिन गर्मी से मिलेगी थोड़ी राहत, केरल में 27 मई को आ सकता है मानसून

एक दिन पहले टोंगा के पास समुद्र में हंगा टोंगा हंगा हापाई ज्वालामुखी में विस्फोट के बाद समुद्र तट की ओर बढ़ती विशाल लहरों को देखते हुए सूनामी की चेतावनी जारी की गई थी। टोंगा प्रशासन ने समुद्र तट की बस्तियां खाली करवा कर वहां रहने वाले लोगों को बचाने के लिए नजदीक के ऊंचे स्थान पर भेजा था। ऑस्ट्रेलिया के मौसम विज्ञान ब्यूरो ने कहा था कि नुकु आलोफा के 65 किमी उत्तर में हुआ ज्वालामुखी विस्फोट सूनामी का कारण बना है। टोंगा की राजधानी नकुआलोफा में 83 सेंटीमीटर ऊंची सूनामी लहरों का दावा किया गया था। इसके अलावा अमेरिकन समोआ की राजधानी पागो पागो में 2 फीट ऊंची समुद्री लहरें देखी गयी थीं।

इस घटनाक्रम के बाद रविवार का दिन राहत की खबर लेकर आया। ज्वालामुखी विस्फोट के कारण प्रशांत महासागर में सूनामी का खतरा फिलहाल टल गया है। न्यूजीलैंड ने कहा है कि द्विपीय देश टोंगा के ऊपर ज्वालामुखी से निकली राख के 63000 फीट मोटे बादल बन जाने से निगरानी विमान उड़ान नहीं भर पा रहे हैं। सोमवार को प्रयास कर आपूर्ति विमान और नौसेना के पोत भेजे जाएंगे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...