1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Nav Sankalp Chintan Shivir 2022 : कार्यकर्ताओं को कांग्रेस के लिए आत्मविश्वास, ऊर्जा और प्रतिबद्धता से करना होगा काम- सोनिया गांधी

Nav Sankalp Chintan Shivir 2022 : कार्यकर्ताओं को कांग्रेस के लिए आत्मविश्वास, ऊर्जा और प्रतिबद्धता से करना होगा काम- सोनिया गांधी

नव संकल्प चिंतन शिविर में सोनिया गांधी ने बीजेपी और RSS पर सीधा निशाना साधते हुए कहा कि देश में डर का माहौल पैदा किया जा रहा है। अल्पसंख्यकों को क्रूरता के साथ निशाना बनाया जा रहा है। अल्पसंख्यक भी हमारे समाज का अभिन्न अंग हैं और हमारे देश के समान नागरिक हैं।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

उदयपुर, 13 मई। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शुक्रवार को पार्टी कार्यकर्ताओं को संदेश दिया कि देश को पार्टी से बहुत उम्मीदें हैं और इसे पूरा करने के लिए सभी सिपाहियों को पूरे आत्मविश्वास, ऊर्जा और प्रतिबद्धता के साथ काम करना होगा। सोनिया गांधी ने शुक्रवार को राजस्थान के उदयपुर में कांग्रेस के चिंतन शिविर को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी ने हमें बहुत कुछ दिया है, अब समय है कि हम पार्टी के प्रति समर्पित होकर काम करें। उन्होंने कहा कि हर संगठन को जीवित रहने के लिए बदलाव लाने पड़ते हैं। हमें भी सुधारों की सख्त जरूरत है।

पढ़ें :- National Herald Case : नेशनल हेराल्ड मामले में ED की बड़ी छापेमारी, हेराल्ड हाउस सहित 12 स्थानों पर कार्रवाई

सोनिया गांधी ने बीजेपी और RSS पर साधा निशाना

पढ़ें :- Mission 2024 : सोनिया गांधी की वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक, कांग्रेस को मजबूत करने के लिए प्रशांत किशोर ने पेश किया खाका

नव संकल्प चिंतन शिविर में सोनिया गांधी ने बीजेपी और RSS पर सीधा निशाना साधते हुए कहा कि देश में डर का माहौल पैदा किया जा रहा है। अल्पसंख्यकों को क्रूरता के साथ निशाना बनाया जा रहा है। अल्पसंख्यक भी हमारे समाज का अभिन्न अंग हैं और हमारे देश के समान नागरिक हैं।

ये लोग गांधी के सिद्धांतों को मिटाने में लगे हैं- सोनिया गांधी

सोनिया गांधी ने कहा कि ये (बीजेपी) सरकार इतिहास में फेरबदल करने की कोशिश कर रही है। पंडित नेहरू के योगदान को कमतर आंकने का प्रयास किया जा रहा है। महात्मा गांधी के हत्यारे का महिमामंडन हो रहा है और ये लोग गांधी के सिद्धांतों को मिटाने में लगे हैं। वर्तमान सरकार जांच एजेंसियों का भी गलत उपयोग कर प्रतिद्वंदियों को परेशान कर रही है। उन्होंने कहा कि इस चिंतन शिविर में देश के सामने पनप रही चुनौतियों पर चिंतन-मंथन के साथ-साथ पार्टी को मजबूत बनाने को लेकर संवाद करने का अच्छा मौका है। जब हम इस चिंतन शिविर से वापस लौटें तो पूरे उत्साह, आत्मविश्वास और प्रतिबद्धता के भाव से काम करें।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...