Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. युवक के शव के साथ लोगों ने किया सड़क जाम, परिजनों ने मृतक की पत्नी को बताया मुख्य साजिशकर्ता  

युवक के शव के साथ लोगों ने किया सड़क जाम, परिजनों ने मृतक की पत्नी को बताया मुख्य साजिशकर्ता  

यूपी के हरदोई जिले में परिजनों ने युवक के शव को सड़क पर रख कर रोड जाम कर दिया। जिससे दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह जाम खत्म करा आवागमन शुरू कराया।  रविवार को गुमशुदा युवक का शव सुरसा थाने के देवरिया और दुलारपुर के बीच एक नाले से खोद कर निकाला गया।

By HO BUREAU 

Updated Date

हरदोई। यूपी के हरदोई जिले में परिजनों ने युवक के शव को सड़क पर रख कर रोड जाम कर दिया। जिससे दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह जाम खत्म करा आवागमन शुरू कराया।  रविवार को गुमशुदा युवक का शव सुरसा थाने के देवरिया और दुलारपुर के बीच एक नाले से खोद कर निकाला गया।

पढ़ें :- बदमाशों का कहरः गृहस्वामी की हत्या कर लाखों का माल लूट ले गए

युवक की हत्या में पुलिस ने युवक के फुफेरे साले और उसके दोस्त को गिरफ्तार कर लिया। मृतक के परिजनों का आरोप था कि मृतक की पत्नी इस पूरे मामले की साजिशकर्ता थी, लेकिन पुलिस ने उस पर कोई कार्रवाई नहीं की। पुलिस ने आश्वासन देकर मृतक का पंचायतनामा परिजनों से करा लिया, लेकिन कार्रवाई नहीं की।

जिसके बाद रविवार की रात पोस्टमार्टम कराने के बाद लौटे परिजनों ने मृतक के शव को पिहानी रोड पर रख कर सड़क जाम कर दिया। परिजन आरोपियों की  गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे। हरियावां थाने के अहमदी गांव निवासी बांकेलाल गुप्ता (28) पुत्र रामशंकर गुप्ता 22 मार्च को बाइक से कोतवाली देहात की कांशीराम कालोनी में किसी रिश्तेदार के घर जाने के लिए निकला था। इसके बाद से वापस नहीं लौटा।

16 दिन बाद रविवार को सुरसा पुलिस ने देवरिया और दुलारपुर के बीच से निकले नाले से उसका शव बरामद किया। मृतक के फुफेरे साले मदन गुप्ता और उसके साथी राधेश्याम कश्यप को हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, लेकिन मृतक के परिजनों का आरोप था उस पूरे मामले की साजिशकर्ता मृतक की पत्नी है।

ASP मार्तंड प्रकाश सिंह ने बताया कि बांकेलाल की शादी हरपालपुर निवासी आनंद की पुत्री सैफाई के साथ हुई थी। उन्होंने बताया कि मृतक बांके लाल गुप्ता की पत्नी की शादी वर्ष 2014 में मदन गुप्ता के साथ तय हुई थी। जिसमें तिलक भी हो गया था, जिसके बाद मदन गुप्ता किसी मुकदमें में जेल चला गया था, जिस कारण शादी टूट गई थी। इसके बाद उक्त महिला की शादी बांके लाल गुप्ता के साथ हो गई। बांके लाल गुप्ता की पत्नी विगत 7-8 माह से मायके में रह रही थी।

पढ़ें :- गंगनहर में बाप-बेटे का शव मिलने से हड़कंप, मछली पकड़ने गए थे दोनों

इसी दौरान मदन गुप्ता का संपर्क बांके लाल गुप्ता की पत्नी से हो गया। इसी के चलते मदन गुप्ता द्वारा अपने साथी राधेश्याम कश्यप के साथ मिलकर बांके लाल गुप्ता को शराब पिलाकर उसका गला दबाया गया फिर उसकी हत्या कर दी गई। इसके बाद शव को सुरसा थाना क्षेत्र में अशोखर पुलिया व दुलारपुर के मध्य नहर बंबा पटरी के निकट झाडियों में मिट्टी डालकर छिपा दिया गया। मृतक बांकेलाल के पिता राम शंकर ने बताया इस पूरे घटनाक्रम में आरोपियों के साथ-साथ उसकी बहू सैफाई भी शामिल थी। पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और मृतक की पत्नी के खिलाफ कार्रवाई का भरोसा दिया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com