1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. Bihar Investors Meet 2022 : बिहार निवेश के लिए तैयार कर रहा अनुकूल वातावरण- शाहनवाज हुसैन

Bihar Investors Meet 2022 : बिहार निवेश के लिए तैयार कर रहा अनुकूल वातावरण- शाहनवाज हुसैन

शाहनवाज हुसैन ने कहा कि औद्योगिक विकास की गति को और तेज करने के लिए नई दिल्ली में ऐतिहासिक बिहार इंनवेस्टर्स मीट-2022 का आयोजन किया जा रहा है। ये राज्य में निवेश के अपार अवसरों को प्रदर्शित करने वाला एक कार्यक्रम है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

पटना/नई दिल्ली, 12 मई। बिहार इंवेस्टर्स मीट में प्रदेश के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने गुरुवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन और बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व ने राज्य में तीव्र औद्योगिक विकास और अपार रोजगार क्षमता के लिए अनुकूल वातावरण तैयार किया है। शाहनवाज हुसैन ने कहा कि औद्योगिक विकास की गति को और तेज करने के लिए नई दिल्ली में ऐतिहासिक बिहार इंनवेस्टर्स मीट-2022 का आयोजन किया जा रहा है। ये राज्य में निवेश के अपार अवसरों को प्रदर्शित करने वाला एक कार्यक्रम है। ये हम सभी के लिए बड़े गर्व की बात है कि उद्योग लगातार प्रदेश में रुचि दिखा रहे हैं। एक निवेशक शिखर सम्मेलन के बिना भी, राज्य औद्योगिक संवर्धन बोर्ड (SIPB) को 36,253 करोड़ का प्रस्ताव मिला है।

पढ़ें :- Bihar : बिहार के सहरसा में कोसी नदी की उपधारा में डूबने से तीन बच्चों की मौत

राज्य में लगा बिजनेस फ्रेंडली इको-सिस्टम

उद्योग मंत्री हुसैन ने कहा कि बिहार को पूर्वी क्षेत्र में नए “निवेशकों के गंतव्य” के रूप में पेश किया जा रहा है। राज्य के उद्योग विभाग द्वारा राज्य में सिंगल-विंडो क्लीयरेंस मैकेनिज्म के जरिए 7 दिनों में प्रस्तावों को मंजूरी देने के लिए बिजनेस फ्रेंडली इको-सिस्टम लगाया गया है। बैठक राज्य में उपलब्ध औद्योगिक क्षमता और व्यावसायिक अवसरों का प्रदर्शन करेगी।

बिहार के पास निवेशों को आकर्षित करने के लिए जमीन

शाहनवाज ने कहा कि बिहार के विकास का सीधा संबंध हमारे देश के विकास से है। भारत को विकसित राष्ट्र बनने के लिए, बिहार जैसे राज्यों को भी औद्योगिक रूप से विकसित होने की जरूरत है, लोग देखेंगे कि बिहार इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। बिहार के पास निवेश को आकर्षित करने के लिए जमीन है। हम महान बुनियादी और व्यापार अनुकूल नीतियां विकसित कर रहे हैं। हुसैन ने कहा कि ये मेरा दृढ़ विश्वास है कि हम जल्द ही एकल खिड़की मंजूरी और व्यापार करने में आसानी के मामले में शीर्ष 5 राज्यों में गिने जाएंगे। जिस तरह से पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात को बदल दिया, नीतीश कुमार बिहार को बदल रहे हैं। आज बिहार वो सब उपलब्ध कराता है जो उद्योगों के विकास के लिए जरूरी है।

पढ़ें :- Bihar : पीएम मोदी ने देश को साल 2047 तक विश्व में नंबर एक बनाने का लक्ष्य रखा- अमित शाह

राज्य में पहली इथेनॉल नीति बनाई गई

उद्योग मंत्री ने कहा कि ITC और अडानी समूह जैसे बड़े उद्योगों ने औद्योगिक क्षमता में विश्वास दिखाया है। हमने बिहार में पर्याप्त पानी और फसल होने की प्राकृतिक ताकत के आधार पर राज्य में पहली इथेनॉल नीति बनाई है। भारत का सबसे बड़ा इथेनॉल संयंत्र बिहार में चालू किया जा रहा है। कपड़ा, चमड़ा और रसद नीतियों का मसौदा तैयार किया जा रहा है और जल्द ही इसे लागू किया जाएगा। बिहार में औद्योगिक विकास से राज्य के पलायन और बेरोजगारी को दूर करने की कार्ययोजना पर सरकार काम कर रही है और इसी के लिए इंवेस्टर्स मीट का आयोजन किया गया है।

गौरतलब है कि बिहार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने दीप प्रज्जवलित कर इंनवेस्टर्स समिटि 2022 सम्मेलन का उदघाटन किया। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इंवेस्टर्स मीट को संबोधित करेंगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...