Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. ऑटो
  3. मां हीराबेन को आखिरी विदाई देने के बाद कोलकाता में PM मोदी ने वंदे भारत ट्रेन को दिखाई हरी झंडी

मां हीराबेन को आखिरी विदाई देने के बाद कोलकाता में PM मोदी ने वंदे भारत ट्रेन को दिखाई हरी झंडी

आज तड़के सुबह पीएम मोदी की माँ हीराबेन का अहमदाबाद के अस्पताल में निधन हो गया और मोदी जी और उनके भाई ने मिलकर अपनी माँ को आखिरी विदाई दी अब वह फिर से वापस अपने करताव पथ पर आ गए है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधीनगर राजभवन से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोलकाता में हावड़ा न्यू-जलपाईगुड़ी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई.

By रुचि उपाध्याय 

Updated Date

Kolkata news: आज तड़के सुबह पीएम मोदी की माँ हीराबेन का अहमदाबाद के अस्पताल में निधन हो गया और मोदी जी और उनके भाई ने मिलकर अपनी माँ को आखिरी विदाई दी अब वह फिर से वापस अपने करताव पथ पर आ गए है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गांधीनगर राजभवन से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोलकाता में हावड़ा न्यू-जलपाईगुड़ी वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई. निधन के कारण उन्हें कोलकाता जाने का अपना कार्यक्रम रद्द करना पड़ा, लेकिन उन्होंने पश्चिम बंगाल में विकास परियोजनाओं के उद्घाटन और लोकार्पण को नहीं टाला. वह अपनी मां के अंत्येष्टि कार्यक्रम में शामिल होने के बाद सीधे गांधीनगर राजभवन पहुंचे और यहां वीसी के जरिए कोलकाता में कार्यक्रम से जड़े.

पढ़ें :- रामलला की प्राण प्रतिष्ठाः मोदी ने कहा - 22 जनवरी को सभी लोग अपने घरों में जलाएं श्रीराम ज्योति, मनाएं दीपावली

पीएम मोदी ने गांधीनगर से ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोलकाता मेट्रो की पर्पल लाइन के जोका-तारातला खंड का उद्घाटन किया. इसके अलावा उन्होंने न्यू जलपाईगुड़ी रेलवे स्टेशन रिडेवलपमेंट प्रोजेक्ट की भी आधारशिला रखी. उन्होंने पश्चिम बंगाल में विभिन्न रेलवे परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास भी किया. पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा, मुझे पश्चिम बंगाल आना था लेकिन निजी कारणों से मैं वहां नहीं आ सका. मैं बंगाल के लोगों से माफी मांगता हूं. पीएम ने कहा कि देश की आजादी के ‘अमृत महोत्सव’ में देश ने 475 ‘वंदे भारत ट्रेन’ शुरू करने का संकल्प लिया था. आज इसी में से एक हावड़ा को न्यू जलपाईगुड़ी से जोड़ने वाली ‘वंदे भारत’ शुरू हुई है.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, बंगाल के कण-कण में आजादी के आंदोलन का इतिहास समाहित है. जिस धरती से ‘वंदे मातरम्’ का जयघोष हुआ, वहां आज ‘वंदे भारत’ ट्रेन को हरी झंडी दिखाई गई है. आज 30 दिसंबर की तारीख का भी इतिहास में अपना बहुत महत्व है. 30 दिसंबर, 1943 के दिन ही नेताजी सुभाष ने अंडमान में तिरंगा फहराकर भारत की आजादी का बिगुल फूंका था. इस घटना के 75 वर्ष होने पर साल 2018 में, मैं अंडमान गया था, नेताजी के नाम पर एक द्वीप का नामकरण भी किया था. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार भारतीय रेलवे के आधुनिकीकरण के लिए रिकॉर्ड निवेश कर रही है. अब भारत में वंदे भारत एक्सप्रेस, तेजस एक्सप्रेस, हमसफर एक्सप्रेस जैसी आधुनिक ट्रेनें बन रही हैं. अगले 8 साल में हम रेलवे को आधुनिकीकरण की नई यात्रा पर देखेंगे.

आपको बता दें कि, ममता बनर्जी ने पीएम की मां के निधन पर शोक प्रकट किया. उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी से कार्यक्रम जल्द समाप्त कर आराम करने को कहा. बंगाल की सीएम ने कहा, ‘मां का कोई विकल्‍प नहीं हो सकता. आपकी मां मेरी मां हैं. मुझे भी अपनी मां की बहुत याद आई. आप कार्यक्रम से वर्चुअली जुड़े, यह हमारे लिए बहुत सम्मान की बात है.’ पीएम मोदी ने हाथ जोड़कर ममता बनर्जी का अभिनंदन किया और वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाई. हावड़ा स्‍टेशन पर मौजूद लोग मोदी-मोदी के नारे लगा रहे थे.

पढ़ें :- पीएम मोदी का अयोध्या दौराः हवाई अड्डे से लेकर रेलवे स्टेशन तक बस राम ही राम, पूरा वातावरण हुआ भक्तिमय, आठ ट्रेनों को दिखाई हरी झंडी
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com