1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. ओवैसी पर गोली चलाने वाले आरोपियों का बड़ा खुलासा, बयान में बताया क्यों चलाई गोली ?

ओवैसी पर गोली चलाने वाले आरोपियों का बड़ा खुलासा, बयान में बताया क्यों चलाई गोली ?

उत्तर प्रदेश से चुनाव प्रचार खत्म कर जब वह वापस दिल्ली लौट रहे थे तभी दो अज्ञात लोगों ने उनकी कार पर फायरिंग कर दी।

By Ujjawal Mishra 
Updated Date

Owaisi’s Convoy Attacked : कल यानी गुरुवार की शाम दो अज्ञात लोगों ने एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के गाड़ी पर अचानक फायरिंग कर दी। फायरिंग की सूचना खुद असदुद्दीन ओवैसी ने ट्वीटर के जरिए दी। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश से चुनाव प्रचार खत्म कर जब वह वापस दिल्ली लौट रहे थे तभी दो अज्ञात लोगों ने उनकी कार पर फायरिंग कर दी। घटना की जानकारी मिलते ही यूपी पुलिस हरकत में आई और गोली चलाने वाले लोगों की तलाश जारी कर दी। खोजबीन करने के बाद यूपी पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

पढ़ें :- UP News:रेलवे स्टेशन पर बुजुर्ग के नमाज पढ़ने का वीडियो हुआ वायरल,जांच में जुटी RPF

ओवैसी के बयानबाजी से थी नाराजगी 

जानकारी के मुताबिक ओवैसी पर हमला करने वाले आरोपियों की पहचान सचिन और शुभम के रूप में हुई है। पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने ओवैसी पर हमला करने की वजह भी बताई है। हापुड़ के एसपी दीपक भूकर ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी असदुद्दीन ओवैसी की बयानबाजी से गुस्से में थे। गुस्से में आरोपियों ने उनकी गाड़ी पर गोली चलाने का कदम उठाया। बता दें कि यह घटना तब हुई जब ओवैसी मेरठ से प्रचार करने के बाद वापस दिल्ली लौट रहे थे।

हथियार मौके पर ही छोड़कर हो गए थे फरार 

ओवैसी के मुताबिक उनके काफिले पर हमला करने वालों की संख्या 4 से 5 थी। हमला करने के तुरंत बाद आरोपी अपना हथियार मौके पर ही छोड़ कर भाग गए। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि करीब पिस्टल से 3 से 4 राउंड फायरिंग हुई। हालांकि गनीमत रहा कि ओवैसी को कुछ नहीं हुआ। गोली लगने के कारण उनकी कार का टायर पंचर हो गया जिसके कारण ओवैसी दूसरी गाड़ी में बैठ कर वापस दिल्ली लौट गए।

पढ़ें :- UP News:स्कूल की तीसरी मंजिल से 11वीं की छात्रा ने लगाई छलांग, गोरखपुर किया गया रेफर हालत गंभीर

निष्पक्ष जांच की उठाई मांग

ओवैसी ने खुद पर हुए हमले की निष्पक्ष जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि मैं चुनाव आयोग से इस घटना की स्वतंत्र जांच के आदेश देने का अनुरोध करता हूं। साथ ही इस घटना की निष्पक्ष जांच कराने की जिम्मेदारी पीएम मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की है। साथ ही इस घटना के संदर्भ में मैं लोकसभा अध्यक्ष से भी मिलूंगा। इसके बाद घटना पर बयान जारी करते हुए यूपी एडीजी लॉ एंड ऑर्डर ने कहा कि मौके पर पहुंची पुलिस ने वीडियो फुटेज को अपने कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दिया है। मामले की जांच के लिए 5 टीमें बनाई गई है।

पढ़ें :- UP News:यूपी के हाथरस में भीषण सड़क हादसे में 3 की मौत, कार के उड़े परखच्चे

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...