1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. ADR की रिपोर्ट : साल 2020-21 में 7 चुनावी ट्रस्टों को दान में मिले 258 करोड़, BJP के खाते में आई 82 फीसदी राशि, देखें रिपोर्ट

ADR की रिपोर्ट : साल 2020-21 में 7 चुनावी ट्रस्टों को दान में मिले 258 करोड़, BJP के खाते में आई 82 फीसदी राशि, देखें रिपोर्ट

रिपोर्ट के मुताबिक 23 पंजीकृत चुनावी ट्रस्टों में से 14 ने खुद को मिले योगदानों की जानकारी नियमित रूप से निर्वाचन आयोग के साथ साझा की है। बाकी 8 ट्रस्टों ने कहा है कि उन्हें कोई योगदान नहीं मिला है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 24 अप्रैल। चुनाव सुधार निकाय ADR (एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स) की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक 7 चुनावी ट्रस्टों को कॉरपोरेट और अन्य व्यक्तियों से दान के रूप में कुल 258.4915 करोड़ रुपये हासिल हुए हैं। इसमें से बीजेपी के खाते में 82 फीसदी से भी अधिक राशि आई है।

पढ़ें :- Pooja Singhal Case Update : निलंबित आईएएस पूजा सिंघल को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत

पढ़ें :- कपिल सिब्बल ने दिया कांग्रेस को झटका, सपा से किया राज्यसभा चुनाव का नामांकन

बतादें कि चुनावी ट्रस्ट एक गैर लाभकारी संगठन होता है। इसके माध्यम से राजनीतिक दल कॉरपोरेट संस्थानों और व्यक्तियों से आर्थिक योगदान हासिल करते हैं। ये व्यवस्था लाने का उद्देश्य चुनाव संबंधी खर्चों में पैसे के इस्तेमाल को लेकर पारदर्शिता को बढ़ावा देना है।

 

सामने आई ADR की ताजा रिपोर्ट

शुक्रवार को सामने आई ADR की ताजा रिपोर्ट में कहा गया है कि 23 में से 16 चुनावी ट्रस्टों ने वित्त वर्ष 2021-21 के लिए भारतीय निर्वाचन आयोग के पास से हासिल हुए चंदे की जानकारी साझा की है। इनमें से केवल 7 ट्रस्टों ने दान मिलने की बात कही है।

पढ़ें :- Pooja Singhal Case : पूजा सिंघल की रिमांड आज खत्म, कोर्ट में होंगी पेश

कॉरपोरेट से 258.491 करोड़ का चंदा हासिल हुआ

रिपोर्ट के मुताबिक- उन 7 चुनावी ट्रस्टों को जिन्होंने वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान दान हासिल होने की बात कही है, कॉरपोरेट से 258.491 करोड़ का चंदा हासिल हुआ है और इसमें से कई राजनीतिक दलों को 258.4301 करोड़ रुपये दिए गए हैं।

पढ़ें :- Uttarakhand : उत्तराखंड में मौसम साफ, चारधाम यात्रा दोबारा शुरू

बीजेपी को मिले 212 करोड़, 10 दलों को कुल मिलाकर 10.45 करोड़

आंकड़ों के मुताबिक केंद्र में सत्ताधारी बीजेपी को 212.05 करोड़ रुपए मिले हैं, जो कुल राशि का 82.05 फीसदी है। वहीं बिहार में बीजेपी के साथ राज्य की सत्ता में काबिज जनता दल यूनाइटेड (JDU) को 27 करोड़ रुपये यानी 10.45 फीसदी राशि मिली है।

10 राजनीतिक दलों को दान में से मिले कुल 19.38 करोड़

इसके साथ ही बाकी 10 राजनीतिक दलों को चुनावी ट्रस्टों को मिले दान में से कुल 19.38 करोड़ रुपए की राशि मिली है। इन पार्टियों में कांग्रेस, NCP, अन्नाद्रमुक, द्रमुक, राजद, AAP, लोजपा, CPM, CPI और लोकतांत्रिक जनता दल शामिल हैं।

चुनावी ट्रस्टों के लिए नियम- 95% राशि वितरित करना जरूरी

केंद्र सरकार की ओर से बनाए गए नियमों के मुताबिक चुनावी ट्रस्टों के लिए एक वित्त वर्ष में जितनी राशि मिलती है उसमें से 95 फीसदी राशि को पिछले वित्त वर्ष के अधिशेष के साथ देश के पात्र राजनीतिक दलों को 31 मार्च से पहले वितरित करना जरूरी होता है।

8 ट्रस्टों ने कहा- उन्हें कोई योगदान नहीं मिला

रिपोर्ट के मुताबिक 23 पंजीकृत चुनावी ट्रस्टों में से 14 ने खुद को मिले योगदानों की जानकारी नियमित रूप से निर्वाचन आयोग के साथ साझा की है। बाकी 8 ट्रस्टों ने कहा है कि उन्हें कोई योगदान नहीं मिला है। उनकी रिपोर्ट ECI की वेबसाइट पर कभी उपलब्ध नहीं हुई है।

वहीं ADR की रिपोर्ट के मुताबिक वित्त वर्ष 2020-21 के दौरान 159 व्यक्तियों ने चुनावी ट्रस्ट में दान किया है। इनमें से दो व्यक्तियों ने साढ़े 3 करोड़ का दान प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट में किया, जबकि 153 व्यक्तियों ने 3.20 करोड़ रुपए का दान स्माल डोनेशंस इलेक्टोरल ट्रस्ट में किया। 3 लोगों ने 5 लाख रुपए का योगदान आइंजिगर्टिग इलेक्टोरल ट्रस्ट में किया है। जबकि एक व्यक्ति ने 1100 रुपए का योगदान इंडिपेंडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट में दिया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...