Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. छत्तीसगढ़
  3. छत्तीसगढ़ विधानसभा में आरक्षण पर हंगामा, भाजपा के 11 विधायक निलंबित; तीन बार स्थगित हुई सदन की कार्यवाही

छत्तीसगढ़ विधानसभा में आरक्षण पर हंगामा, भाजपा के 11 विधायक निलंबित; तीन बार स्थगित हुई सदन की कार्यवाही

छत्तीसगढ़ विधानसभा में आरक्षण पर जमकर हंगामा हुआ। भाजपा के 11 विधायकों को निलंबित कर दिया. विपक्षी विधायकों ने क्वांटिफाइबल डाटा आयोग की रिपोर्ट पटल पर रखने की मांग की.

By Ruchi Kumari 

Updated Date

छत्तीसगढ़ में विधानसभा के शीतकालीन सत्र के पहले दिन आरक्षण के मुद्दे पर सत्त्तापक्ष और विपक्ष के विधायकों के बीच जमकर बहस हुई. सरकार के जवाब से असंतुष्ट विपक्षी विधायक जब गर्भगृह में पहुंचकर नारेबाजी करने लगे, तो अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने 11 विधायकों को निलंबित कर दिया. वहीं, सदन की कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी.

पढ़ें :- शिल्पा ने बहन शमिता को किया बर्थडे विश, चॉकलेट से बाल खींचने तक का वीडियो शेयर

धरने पर बैठे भाजपा विधायक

सदन में विपक्ष ने क्वांटिफाइबल डाटा आयोग की रिपोर्ट सदन के पटल पर रखने की मांग की. सरकार की तरफ से जब इसका कोई जवाब नहीं आया तो हंगामा शुरू हो गया. इस बीच विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने सदन की कार्यवाही पहले दस मिनट, फिर पांच मिनट के लिए स्थगित कर दी. कार्यवाही जब तीसरी बार शुरू हुई तो विपक्षी विधायक गर्भगृह में पहुंचकर नारेबाजी करने लगे. निलंबन के बाद भाजपा के विधायक गांधी प्रतिमा के सामने धरने पर बैठ गए.

सदन में इस विषय को लेकर कांग्रेस विधायकों ने दावा किया कि विधेयकों पर सहमति देने में देरी का जानबूझकर प्रयास किया जा रहा है. हालांकि विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आरोप लगाया कि सत्ताधारी दल के सदस्य राज्यपाल को ‘डराने’’ की कोशिश कर रहे हैं.

भाजपा के वरिष्ठ विधायक और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल और अजय चंद्राकर ने सदन में कहा कि राज्य में ‘संवैधानिक संकट’ की स्थिति है क्योंकि सत्ताधारी दल के नेता आरक्षण विधेयकों को लेकर कथित तौर पर राज्यपाल को डराने की कोशिश कर रहे थे.

पढ़ें :- केरल के पत्रकार सिद्दीकी कप्पन लखनऊ जेल से हुए रिहा, 28 महीने बाद मिली जमानत

तब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और विधायक मोहन मरकाम ने कहा कि विधेयक दो दिसंबर को विधानसभा में पारित किए गए थे और वे अभी भी सहमति के लिए राजभवन के पास लंबित हैं.

इसके बाद कांग्रेस के अन्य विधायकों ने भाजपा पर आरक्षण को लेकर दोहरे मापदंड तथा आरक्षण विरोधी एजेंडा अपनाने का भी आरोप लगाया. सदन में दोनों पक्षों ने हंगामा कर दिया जिसके कारण विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत ने दो बार सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी.

ये विधायक निलंबित

नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल, डॉ. रमन सिंह, धरमलाल कौशिक, बृजमोहन अग्रवाल, ननकीराम कंवर, अजय चंद्राकर, शिवरतन शर्मा, केएम बांधी, रजनीश ¨सह, डमरूधर पुजारी और रंजना साहू.

कांग्रेस की आज जन अधिकार रैली
आरक्षण संशोधन विधेयक पर राज्यपाल से हस्ताक्षर करने की मांग को लेकर कांग्रेस मंगलवार को जन अधिकार रैली निकालेगी. इसमें करीब एक लाख कांग्रेसी रायपुर के साइंस कालेज मैदान में सभा केबाद राजभवन तक पैदल मार्च करेंगे.

पढ़ें :- Budget Session 2023: विपक्ष के हंगामे के बाद लोकसभा और राज्‍यसभा की कार्यवाही दोहपर 2 बजे तक के लिए स्‍थागित

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com