1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. मेक्सिको में 7.6 तीव्रता का जोरदार भूकंप, एक की मौत; सुनामी का अलर्ट

मेक्सिको में 7.6 तीव्रता का जोरदार भूकंप, एक की मौत; सुनामी का अलर्ट

7.6 तीव्रता के तेज झटके मेक्सिको में महसूस किए गए। भूकंप पिछली दो आपदाओं की ठीक बरसी पर आया था जिसमें 1985 और 2017 में हजारों लोग मारे गए थे।

By रुचि उपाध्याय 
Updated Date

Earthquake Struck Western Mexico: एक बार फिर 7.6 तीव्रता के तेज झटके मेक्सिको में महसूस किए गए। पश्चिमी मेक्सिको में सोमवार को एक अजीब इत्तेफाक देखने को मिला. इस इत्तेफाक ने कुछ देर के लिए लोगों की सांसें रोक दीं थीं, हालांकि बात में जब स्थिति सामान्य हुई तो लोगों ने राहत की सांस ली. दरअसल, सोमवार को यानी 19 सितंबर 2022 को दो विनाशकारी भूकंपों (Earthquake) की बरसी पर दोपहर में यहां एक शक्तिशाली भूकंप आया. इससे इमारतें हिल गईं. बिजली गुल हो गई. फिलहाल यूएस पैसिफिक सुनामी वॉर्निंग सेंटर ने मेक्सिको के तट के कुछ हिस्सों के लिए सुनामी की चेतावनी जारी करते हुए कहा कि लहरें ज्वार के स्तर से 1 से 3 मीटर (3 से 9 फीट) ऊपर तक पहुंच सकती है।

पढ़ें :- ताइवान में तबाही, 6.8 तीव्रता का शक्तिशाली भूकंप आया, कई इमारतें ध्वस्त हो गई-देखें भयंकर तस्वीरें

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सोमवार को दोपहर करीब 1 बजे मिचोआकन और कोलिमा राज्यों के सीमावर्ती क्षेत्र में तट के पास भूकंप आया. अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के अनुसार, भूकंप लगभग 15 किमी (9 मील) की गहराई पर 7.6 तीव्रता के साथ आया था. मेक्सिको सिटी की मेयर क्लाउडिया शिनबाम ने बताया, राजधानी में भूकंप के झटके के बाद तत्काल नुकसान की कोई रिपोर्ट नहीं है.

इस भयंकर भूकंप के बाद राजधानी के मध्य रोमा क्षेत्र के कुछ हिस्सों में, भूकंप के केंद्र से सैकड़ों किलोमीटर (मील) उत्तर-पूर्व में बिजली गुल हो गई. स्थानीय निवासी अपने पालतू जानवरों के साथ रोड पर खड़े थे. वहीं यहां घूमने आने वाले पर्यटक भी लोकल गाइड के साथ कुछ परेशान नजर आ रहे थे. वहीं लाइट गुल होने की वजह से ट्रैफिक लाइट ने काम करना बंद कर दिया था. लोगों में भी डर की स्थिति थी. वे एक-दूसरे को कॉल कर हाल-चाल जान रहे थे.

इसी तारीख पे पहले भी दो विनाशकारी भूकंप आ चुके हैं. पहला विनाशकारी भूकंप 1985 में आया था, जबकि दूसरा विनाशकारी भूकंप 2017 में आया था. 19 सितंबर, 1985 को आए भूकंप में हजारों लोग मारे गए थे, जबकि 19 सितंबर 2017 को आए भूकंप में 350 से अधिक लोग मारे गए थे. 19 सितंबर को ही भूकंप आने से लोगों में इस तारीख को लेकर डर पैदा होने लगा है. यहां के कुआउटेमोक बोरो में रहने वाले एक कारोबारी अर्नेस्टो लैंजेटा का कहना है कि, इस 19 तारीख में जरूर कुछ है. इस दिन बड़ा भूकंप आता है. यह डरने वाला दिन है।

पढ़ें :- 7.6 तीव्रता के भीषण भूकंप से कांपा पापुआ न्यू गिनी देश, सड़कें ढह गईं
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...