Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Nepal Plane Crash: गाजीपुर का सोनू पुत्र की प्राप्ति होने पर पशुपतिनाथ का दर्शन करने के लिए पहुंचा था नेपाल, विमान हादसे में गंवाई जान

Nepal Plane Crash: गाजीपुर का सोनू पुत्र की प्राप्ति होने पर पशुपतिनाथ का दर्शन करने के लिए पहुंचा था नेपाल, विमान हादसे में गंवाई जान

Plane Crash:उत्तर-प्रदेश के गाजीपुर का सोनू पुत्र प्राप्ति की मन्नत पूरी होने के बाद काठमांडू के पशुपतिनाथ मंदिर में मत्था टेकने गया था,जो की नेपाल विमान दुर्घटना में मारा गया,सोनू 10 जनवरी को अपने 3 दोस्तो के साथ नेपाल गया था,सोनू के रिश्तेदार और चक जैनब गांव के प्रधान विजय जायसवाल ने बताया कि सोनू की दो बेटियां हैं और उन्होंने भगवान पशुपतिनाथ से मन्नत मानी थी कि अगर उन्हें पुत्र रत्न की प्राप्ति हुई तो वह मंदिर आएंगे.

By रेनू मिश्रा 

Updated Date

Ghazipur news:उत्तर-प्रदेश के गाजीपुर का सोनू पुत्र प्राप्ति की मन्नत पूरी होने के बाद काठमांडू के पशुपतिनाथ मंदिर में मत्था टेकने गया था,जो की नेपाल विमान दुर्घटना में मारा गया,सोनू 10 जनवरी को अपने 3 दोस्तो के साथ नेपाल गया था,सोनू के रिश्तेदार और चक जैनब गांव के प्रधान विजय जायसवाल ने बताया कि सोनू की दो बेटियां हैं और उन्होंने भगवान पशुपतिनाथ से मन्नत मानी थी कि अगर उन्हें पुत्र रत्न की प्राप्ति हुई तो वह मंदिर आएंगे.

पढ़ें :- मध्य प्रदेश के मुरैना में हुआ बड़ा हादसा, भारतीय वायुसेना के दो विमान सुखोई-30 और मिराज-2000 क्रैश, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

सोनू का बेटा अभी केवल 6 महीने का है,’ सोनू की जिले में शराब की दुकान है, उसका अलावलपुर चट्टी में एक घर है लेकिन वह वर्तमान में वाराणसी के सारनाथ में रह रहा था.मृतकों में सोनू के तीन अन्य दोस्त अभिषेक कुशवाहा (25), विशाल शर्मा (22) और अनिल कुमार राजभर (27) भी शामिल हैं.जैसे ही विमान दुर्घटना की खबर फैली, लगभग पूरा गांव सोनू के घर के बाहर इकट्ठा हो गया और उसकी कुशलक्षेम की कामना करने लगा, क्योंकि उन्हें उम्मीद थी कि वह ठीक होगा.

जिला प्रशासन के अधिकारी बाद में दुखद समाचार लेकर आए. उन्होंने कहा, ‘सोनू की पत्नी और बच्चों को अभी तक घटना के बारे में नहीं बताया गया है. वे दूसरे घर में हैं.’ ग्रामीणों ने बताया कि सोनू और उसके तीन दोस्तों को लोकप्रिय पर्यटन स्थल पोखरा में पैराग्लाइडिंग का आनंद लेने के बाद मंगलवार को गाजीपुर लौटना था.

अधिकारियों ने नेपाल में बताया कि चारों पशुपतिनाथ मंदिर के पास गौशाला में रुके थे और फिर पोखरा जाने से पहले थमेल में होटल ‘डिस्कवरी इन’ में रुके थे. उन्होंने कहा कि वे गोरखपुर के रास्ते पोखरा से भारत लौटने की योजना बना रहे थे. यति एयरलाइंस के प्रवक्ता सुदर्शन बरतौला ने कहा कि अभी तक किसी के जीवित बचने की कोई सूचना नहीं है, इस हादसे में पांच भारतीयों सहित कम से कम 68 लोगों की मौत हो गई.

येती एयरलाइंस के एक अधिकारी ने बताया कि संजय जायसवाल नामक एक अन्य भारतीय की भी मौत हुई है. स्थानीय लोगों के अनुसार, अनिल कुमार राजभर कंप्यूटर व्यवसाय में था और ‘जन सेवा केंद्र’ चलाता था, जबकि अभिषेक भी कंप्यूटर व्यवसाय में था और विशाल शर्मा दोपहिया वाहनों की दुकान में कंप्यूटर ऑपरेटर के रूप में काम करता था.‘नेपाल में हुए विमान हादसे में मारे गए लोगों में गाजीपुर के सोनू जायसवाल, अनिल राजभर, अभिषेक कुशवाहा और विशाल शर्मा भी शामिल हैं. वे कासिमाबाद तहसील के विभिन्न गांवों के रहने वाले थे.’

पढ़ें :- Nepal Plane Crash: मुख्यमंत्री योगी ने हादसे में मृतकों के परिवार को दी बड़ी राहत,UP के मृतकों के आश्रितों को मिलेंगे 5-5 लाख

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com