Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. वैज्ञानिकों को नमनः चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग के लिए दुनियाभर में पूजा-अर्चना, विश्व की निगाहें भारत पर, इस समय करेगा लैंड

वैज्ञानिकों को नमनः चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग के लिए दुनियाभर में पूजा-अर्चना, विश्व की निगाहें भारत पर, इस समय करेगा लैंड

बुधवार (23 अगस्त) को इतिहास रचने के करीब आ चुका है। चंद्रयान-3 बुधवार शाम 6 बजकर 4 मिनट पर चांद पर सॉफ्ट लैंडिंग करेगा। इसरो के वैज्ञानिकों को भरोसा है कि चंद्रयान-3 चांद की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग करेगा।

By Rakesh 

Updated Date

बेंगलुरू। भारत बुधवार (23 अगस्त) को इतिहास रचने के करीब आ चुका है। चंद्रयान-3 बुधवार शाम 6 बजकर 4 मिनट पर चांद पर सॉफ्ट लैंडिंग करेगा। इसरो के वैज्ञानिकों को भरोसा है कि चंद्रयान-3 चांद की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग करेगा।

पढ़ें :- हरियाणाः पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत दुनिया का सबसे तेजी से विकास करने वाला देश बना: तरुण चुघ

इसरो चीफ एस सोमनाथ ने कहा है कि हमें विश्वास है कि यह एक सफल मिशन होगा। उन्होंने कहा कि हम तैयार हैं। इसरो चीफ ने कहा कि 4 साल छोटा समय नहीं होता है। हमने अपना समय अपने मिशन को बेहतर बनाने और बैकअप प्लान तैयार करने में लगाया है।

वाराणसी, भोपाल, तमिलनाडु, लखनऊ, रांची सहित अमेरिका में भी दुआओं का दौर

चांद पर सॉफ्ट लैंडिंग के लिए देश और दुनियाभर में पूजा-अर्चना की जा रही है। वाराणसी, भोपाल, तमिलनाडु, लखनऊ, रांची सहित अमेरिका में भी चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग के लिए पूजा की जा रही है। चंद्रयान की सफल लैंडिंग के लिए देशभर में दुआओं और प्रार्थनाओं का दौर जारी है।

इसी कड़ी में बुधवार को संगम नगरी प्रयागराज में लेटे हुए हनुमान जी के मंदिर में सामूहिक सुंदरकांड का पाठ किया गया और बजरंगबली से चंद्रयान की सफल लैंडिंग में आने वाली हर एक बाधा को दूर किए जाने की प्रार्थना की गई। सामूहिक सुंदरकांड का यह पाठ मंदिर के महंत बलबीर गिरि की अगुवाई में हुआ। सामूहिक सुंदरकांड के पाठ में दर्जनों श्रद्धालु शामिल हुए।

पढ़ें :- छत्तीसगढ़ में छठ महापर्वः महिलाओं ने उगते सूर्य को जल देकर विधि-विधान से की पूजा

भारत धीरे-धीरे विश्व गुरु बनने की राह पर

इस मौके पर कहा गया कि चंद्रयान की सफल लैंडिंग के बाद समूची दुनिया में भारत का मान एक बार फिर बढ़ेगा और भारत धीरे-धीरे विश्व गुरु बनने की राह पर आगे बढ़ता जाएगा। प्रयागराज में कई अन्य जगहों पर भी इसी तरह से दुआओं और प्रार्थनाओं का आयोजन हो रहा है।

यहां-यहां देखा जा सकेगा सॉफ्ट लैंडिंग का सीधा प्रसारण

यहां हर कोई उत्साहित है और चंद्रयान की सफल लैंडिंग की कामना कर रहा है। इस महत्वपूर्ण घटनाक्रम का सीधा प्रसारण 23 अगस्त 2023 को भारतीय समयानुसार शाम 17:20 बजे शुरू किया जाएगा। सॉफ्ट लैंडिंग का सीधा प्रसारण इसरो की वेबसाइट के अलावा ISRO यूट्यूब चैनल, फेसबुक पेज पर होगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दी शुभकामनाएं

पढ़ें :- दिल्ली में उमड़ा आस्था का सैलाबः सूर्यदेव व छठी मइया की पूजा-अर्चना के साथ धूमधाम से मना छठ पर्व, व्रतियों ने उगते सूर्य को दिया अर्घ्य

इसके अलावा डीडी नेशनल, टीवी चैनल सहित कई मंचों पर यह लाइव देखा जा सकता है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मैं अपनी शुभकामनाएं देना चाहता हूं और प्रार्थना करता हूं कि चंद्रयान-3 चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग करे। पूरा देश इंतज़ार कर रहा है। पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत ने हर क्षेत्र में तेजी से प्रगति की है। मैं वैज्ञानिकों को प्रणाम करता हूं।

लैंडर (विक्रम) और रोवर (प्रज्ञान) से युक्त लैंडर मॉड्यूल शाम छह बजकर चार मिनट पर चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुवीय क्षेत्र पर सॉफ्ट लैंडिंग कर सकता है। ऐसा होने पर भारत चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचने वाला दुनिया का पहला देश बन जाएगा। सिर्फ भारतवर्ष ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया इस ऐतिहासिक पल का टकटकी लगाए इंतजार कर रही है।

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने कहा कि यह उपलब्धि भारतीय विज्ञान, इंजीनियरिंग, प्रौद्योगिकी और उद्योग के लिए मील का पत्थर साबित होगी। यह अंतरिक्ष अन्वेषण में भारत की प्रगति का प्रतीक होगी। एजेंसी ने बताया कि मिशन तय समय पर है। सिस्टम की जांच भी नियमित रूप से की जा रही है। इसके साथ ही मिशन की निगरानी कर रहे लोग भी जोश और ऊर्जा से भरे हुए हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com