1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. Uttarakhand : हेमकुंड साहिब और लोकपाल के खुले कपाट, दो साल बाद दिखी रौनक

Uttarakhand : हेमकुंड साहिब और लोकपाल के खुले कपाट, दो साल बाद दिखी रौनक

कपाट उद्घाटन/ प्रकाशोत्सव के शुभ मौके पर करीब 3 हजार श्रद्धालुओं ने पवित्र सरोवर में स्नान कर दरबार में मत्था टेका।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

जोशीमठ, 22 मई। हिमालय की गोद में बसा सिख धर्म की आस्था के प्रतीक श्री हेमकुंड साहिब के कपाट रविवार को तय मुहूर्त पर खोल दिए गए। इसके साथ ही लक्ष्मण मंदिर-लोकपाल के कपाट भी खोल दिए गए हैं।

पढ़ें :- Uttarakhand : IAS अधिकारी रामविलास यादव आय से अधिक सम्पत्ति मामले में फंसे, कई ठिकानों पर उत्तराखंड विजिलेंस की रेड

तय मुहूर्त पर खुले हेमकुंड साहिब के कपाट

जो बोले सो निहाल के जयकारों और सेना की बैंड धुन के बीच ठीक साढ़े 9 बजे पंच प्यारों की अगुवाई में ग्रंथीगण भाई कुलवंत सिंह और भाई मिलाप सिंह ने सतखण्ड से पवित्र गुरुग्रंथ साहिब को दरबार हॉल में सुशोभित किया और ठीक 10 बजे से सुखमणि साहिब का पाठ शुरू हुआ। कार्यक्रम के मुताबिक साढ़े 11 बजे से साढ़े 12 बजे तक भाई हुकम सिंह द्वारा शबद श्रवण कराया और ठीक 1 बजे इस साल की पहली अरदास और हुक्मनामे के बाद कपाट खोल दिए गए। कपाट उद्घाटन/ प्रकाशोत्सव के शुभ मौके पर करीब 3 हजार श्रद्धालुओं ने पवित्र सरोवर में स्नान कर दरबार में मत्था टेका।

पढ़ें :- Uttarakhand : चहुंमुखी विकास की ओर अग्रसर है उत्तराखंड, लोगों का हो रहा है री-वेरिफिकेशन- CM पुष्कर सिंह धामी

मधुर बैंड धुन ने वातावरण को भक्तिमय बनाया

श्री हेमकुंड साहिब मैनेजमेंट ट्रस्ट के अध्यक्ष सरदार जनक सिंह ने भी अपने जत्थे के साथ पहली अरदास में शामिल होकर सुखद और निर्बाध यात्रा के लिए प्रार्थना की। इस दौरान पंजाब से आए बैंड और सेना की गढ़वाल स्काउट्स की मधुर बैंड धुन ने पूरे वातावरण को भक्तिमय बना दिया था। मैनेजमेंट ट्रस्ट के मुख्य प्रबंधक सरदार सेवा सिंह के मुताबिक जालंधर, गुरुदासपुर, पटियाला, लंदन, दिल्ली और अन्य राज्यों के करीब 3 हजार श्रद्धालु इस साल की पहली अरदास में शामिल हुए। कपाट के द्घाटन से पहले झंडा साहिब को चढ़ाने की रस्म भी पूरी की गई।

लक्ष्मण मंदिर-लोकपाल के कपाट विधि विधान के साथ खुले

वहीं कपाट के उद्घाटन के मौके पर श्री हेमकुंड साहिब और मार्ग से तय समय से पूहले बर्फ और ग्लेशियर हटाने का चुनौती पूर्ण कार्य करने वाले सेना के जवानों और सेना की 418 इंजीनियर कंपनी के कमान अधिकारी RS पुंडीर को सरोपा भेंट कर सम्मानित किया गया। उधर प्रसिद्ध लक्ष्मण मंदिर-लोकपाल के कपाट भी विधि विधान के साथ खोल दिए गए हैं।

पढ़ें :- Bhyundar Valley : इस साल 1 जून से खुलेगी फूलों की घाटी भ्यूंडार वैली, मार्गों की मरम्मत में जुटा वन विभाग

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...