Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. पूर्व ओलिंपियन संदीप सिंह प्रिंटिंग एवं स्टेशनरी मंत्री बने रहेंगे, खेल विभाग अब सीएम के पास

पूर्व ओलिंपियन संदीप सिंह प्रिंटिंग एवं स्टेशनरी मंत्री बने रहेंगे, खेल विभाग अब सीएम के पास

पूर्व ओलिंपियन संदीप सिंह प्रिंटिंग एवं स्टेशनरी मंत्री बने रहेंगे. खेल विभाग अब सीएम के पास है. महिला जूनियर कोच की शिकायत पर चंडीगढ़ पुलिस ने विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है. वहीं संदीप सिंह ने आरोपों को पूरी तरह से बेबुनियाद बताया है.

By Ruchi Kumari 

Updated Date

हरियाणा के खेल विभाग में जूनियर एथलीट कोच द्वारा छेड़छाड़ व टी शर्ट फाड़ने के आरोप लगाने के बाद राज्य मंत्री संदीप सिंह ने खेल विभाग छोड़ दिया है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात के बाद उन्होंने यह फैसला किया. संदीप ने मंत्री पद से इस्तीफा नहीं दिया है. वह प्रिंटिंग एवं स्टेशनरी मंत्री बने रहेंगे. इससे पूर्व कोच की शिकायत पर चंडीगढ़ पुलिस ने विभिन्न धाराओं में आपराधिक मुकदमा दर्ज किया. इसके बाद संदीप ने एक वीडियो जारी कर कहा कि जांच चलने तक वह नैतिकता के आधार पर अपना खेल विभाग मुख्यमंत्री को सौंप रहे हैं.

पढ़ें :- IMD Rain Alert: भारी बारिश के कारण तमिलनाडु में स्कूल-कॉलेज बंद, 11 जिले अलर्ट पर

पुलिस ने ने दर्ज किए बयान

पुलिस ने कोच के पंचकूला स्थित निवास पर पहुंचकर उनके बयान दर्ज किए. संभव है कि वह सोमवार को संदीप सिंह के बयान दर्ज करे. संदीप सिंह भारतीय हाकी टीम के कप्तान रह चुके हैं और उन्होंने फिल्म सूरमा में मुख्य भूमिका भी निभाई है.

संदीप सिंह बोले- मेरी छवि खराब करने की कोशिश

महिला कोच द्वारा सिंह पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने के बाद हरियाणा के मंत्री संदीप सिंह का कहना है कि वह खेल विभाग की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री को सौंप रहे हैं. उन्होंने कहा कि मेरी छवि खराब करने की कोशिश की जा रही है. मुझे उम्मीद है कि मुझ पर लगाए गए झूठे आरोपों की गहन जांच होगी। जांच रिपोर्ट आने तक खेल विभाग की जिम्मेदारी सीएम को सौंपता हूं.

पढ़ें :- Ram Janma Bhoomi: भगवान राम की मूर्ति के लिए नेपाल से अयोध्या पहुंची शालिग्राम शिलाएं, राम सेवक पुरम में रखा गया शालिग्राम पत्थर

राज्य सरकार ने महिला कोच के लगाए आरोपों की जांच के लिए रोहतक रेंज की एडीजीपी ममता सिंह के नेतृत्व में तीन वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की जांच कमेटी बना रखी है। मामला चूंकि चंडीगढ़ के सेक्टर सात मंत्री निवास व सुखना लेक के आसपास का था, इसलिए चंडीगढ़ पुलिस ने कोच की शिकायत पर 31 दिसंबर की रात सेक्टर 26 थाने में मंत्री के खिलाफ केस दर्ज किया है। मंत्री पर छेड़छाड़ से जुड़ी धाराएं 354, 354ए व 354बी के साथ गलत तरीके से रोकने के लिए धारा 342 और जान से मारने की धमकी देने के आरोप में धारा 506 लगाया .

कोच ने मंत्री पर यह लगाए आरोप

एथलीट कोच का आरोप है कि मंत्री ने उन्हें अपनी सरकारी कोठी पर बुलाया। एक केबिन में उनके साथ बातचीत हुई। इस दौरान मंत्री ने उनसे कहा कि वह उन्हें खुश रखे और वे उसे खुश रखेंगे। इसी दौरान मंत्री ने उनके साथ गलत तरीके से छेड़छाड़ की। टी-शर्ट फाड़ने के भी आरोप हैं। कोच का कहना है कि मंत्री उनके साथ वाट्सएप और स्नेपचैट पर बात करते थे। उनके साथ जिन खिलाडि़यों का चयन हुआ, उसकी सूची उनके पास मई माह में ही मंत्री ने भेज दी, जबकि रिजल्ट सितंबर में आउट हुआ। बात नहीं मानने पर मंत्री ने उनका तबादला पंचकूला से झज्जर कर दिया।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com