1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. IAS Pooja Singhal Case : झारखंड और बिहार में 7 ठिकानों पर ED का छापा, पूजा के करीबी विशाल चौधरी के ठिकानों पर रेड, जानें और किस के ठिकानों पर हुई छापेमारी

IAS Pooja Singhal Case : झारखंड और बिहार में 7 ठिकानों पर ED का छापा, पूजा के करीबी विशाल चौधरी के ठिकानों पर रेड, जानें और किस के ठिकानों पर हुई छापेमारी

जानकारी मिल रही है कि अनील झा और विशाल चौधरी एक दूसरे से कनेक्टेड हैं। उनके बीच व्यापारिक समझौते भी हैं। अनील झा पूजा सिंघल के पति अभिषेक के पिता जेपीएसी पदाधिकारी कामेश्वर झा का आदमी है। उनका रियल इस्टेट का भी कारोबार है। दोनों मिलकर सरकारी ठेके भी लेते थे। जिसमें पूजा सिंघल उनकी मदद करती थी।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

रांची, 24 मई। निलंबित IAS अधिकारी पूजा सिंघल की गिरफ्तारी के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने मंगलवार को बड़ी कार्रवाई की। ED ने बिहार और झारखंड में 7 ठिकानों पर छापेमारी की। इनमें से 6 ठिकाने रांची और एक बिहार के मुजफ्फरपुर में है।

पढ़ें :- Femina Miss India : टॉप 31 में पहुंचीं राज्य की पहली आदिवासी महिला रिया तिर्की, CM सोरेन ने दी बधाई

तीन लोगों के खिलाफ ED का कार्रवाई

रांची में ED की टीम IAS राजीव अरुण एक्का के करीबी बिल्डर निशित केसरी के ठिकानों पर भी छापेमारी की। निशित केसरी ने हाल के दिनों में हरमू, अशोक नगर और कटहल मोड़ रोड पर कई बड़े अपार्टमेंट बनाए हैं। इससे पहले ED की टीम ने विशाल चौधरी और बिल्डर अनिल झा के ठिकानों पर छापेमारी की थी। विशाल चौधरी का अशोक नगर रोड नंबर 6 में घर है। उसके घर से इतना कैश मिला है कि उसे गिनने के लिए छापामारी टीम को 2 मशीने मंगवानी पड़ी। यहां छापेमारी में ED की टीम को कई महत्वपूर्ण दस्तावेज भी मिले हैं। ईडी की टीम उनकी छानबीन कर रही है। ईडी ने कार्रवाई के दौरान विशाल के साथ काम करने वाले कर्मी और परिजनों को अपने साथ रखा। उनका मोबाइल लिया ताकि वो किसी को कुछ बता कर रेड की गोपनीयता भंग ना कर सकें।

विशाल चौधरी और अनिल झा के कारनामे

विशाल चौधरी के बारे में जानकारी मिली है कि वो कई IAS अफसरों का बेहद करीबी है। वो ब्लैक मनी को व्हाइट करने का काम किया करता था। विशाल चौधरी झारखंड के एक टॉप ब्यूरोक्रेट्स का भी करीबी बताया जा रहा है। अनिल झा पर पूजा सिंघल और खान विभाग में ऊपर तक काली कमाई पहुंचाने का भी आरोप है। अनिल झा अभिजीता कंस्ट्रक्शन में पार्टनर बताया जा रहा है। सुबह साढ़े 10 बजे के बाद ED की टीम बिल्डर निशित केसरी के ठिकाने पर पहुंची। विशाल चौधरी के यहां मिली जानकारी के बाद ED की टीम निशित केसरी के पुंदाग स्थित घर और ओक फॉरेस्ट अपार्टमेंट स्थित कार्यालय में पहुंची।

पढ़ें :- Presidential Election : द्रौपदी मुर्मू 4 जुलाई को आएंगी झारखंड, बीजेपी ने तैयारी की शुरू

रिटायर फौजी त्रिवेणी चौधरी के आवास पर छापा

इसी तरह ED की 5 सदस्यीय टीम ने मुजफ्फरपुर में ब्रह्मपुरा थाना क्षेत्र के राहुल नगर रोड नंबर 15 निवासी रिटायर फौजी त्रिवेणी चौधरी के आवास पर छापा मारा। त्रिवेणी चौधरी विशाल के पिता हैं। राहुल नगर आवास से टीम ने आधा दर्जन से अधिक जमीन से संबंधित दस्तावेज और कई संस्थानों के आई कार्ड बरामद किए हैं।

कब-कब क्या हुआ ?

* 06 मई 2022 को ED ने पूजा सिंघल सहित कई लोगों के ठिकानों पर छापा मारा।
* 07 मई 2022 को CA सुमन कुमार सिंह को गिरफ्तार किया गया।
* 08 मई 2022 को ED ने पूजा सिंघल के पति अभिषेक झा से पूछताछ की।
* 10 मई 2022 को ED ने मनरेगा निधि के कथित गबन और अन्य वित्तीय अनियमितताओं से जुड़े मनी लांड्रिंग मामले में पूजा सिंघल से ED ने पूछताछ की।
* 11 मई 2022 को पूजा सिंघल को गिरफ्तार किया गया।
* 12 मई 2022 को पूजा सिंघल को सस्पेंड कर दिया गया।
* 20 मई 2022 को पूजा सिंघल की रिमांड 5 दिनों के लिए और बढ़ा दी गई।
* 20 मई 2022 को CA सुमन कुमार सिंह को होटवार जेल भेज दिया गया।

कारोबारी नीतीश केसरी ED की रडार पर

पढ़ें :- Jharkhand : भ्रष्टाचार को लेकर बोले निशिकांत दुबे- झारखंड में एक और हूल की जरूरत

दरअसल पूजा सिंघल उनके पति अभिषेक झा और सीए सुमन सिंह के खिलाफ जांच का दायरा बढ़ता जा रहा है। लेकिन पूजा सिंघल जांच के दायरे में हैं। जांच के क्रम में ED नई संभावनाएं तलाश रही है, जिसके तहत विशाल का नाम सामने आया है। मामले में कुछ ना कुछ नया मिल रहा है, जिसके आधार ED अपनी कार्रवाई और आरोपियों पर दबिश बढ़ा रही है। आरोपी पूजा सिंघल से जुड़ा एक कारोबारी नीतीश केसरी ED की रडार पर आ गया है। पता चला है कि रेड के दौरान ED की टीम को नगद राशि के साथ-साथ कई महत्वपूर्ण जानकारियां भी मिली हैं।

विशाल चौधरी गिरफ्तार CA सुमन सिंह से जुड़ा- सूत्र

सूत्रों से जानकारी के मुताबिक विशाल गिरफ्तार CA सुमन सिंह से जुड़ा है। सुमन सिंह के जरिए उसके इंस्टिच्यूट और प्रोजेक्ट में अधिकारियों का धन निवेष किया जाता है। आशंका जताई जा रही है कि विशाल चौधरी ने पूजा सिंघल के करीब रहकर बड़ी कमाई की है और पूजा सिंघल का पति अभिषेक झा उसके माध्यम से अपना काला धन निवेष करता है। ED इसी कनेक्शन की जांच कर रही है। पता चला है कि छापेमारी में विशाल चौधरी के ऑफिस परिसर में महंगा एप्पल मोबाइल फोन कचड़े के साथ मिला है। महंगे फोन के साथ-साथ कई अहम दस्तावेज भी मिले हैं, जिनमें कई बड़े नाम दर्ज हैं। छापारी स्थल देखने से साफ लगा कि टीम के आने के ठीक पहले या बाद कचड़ा में अहम चीजें फेक दी गईं। ईडी उन कागजातों की गहराई से जांच कर रही है।

वहीं ये भी जानकारी मिल रही है कि अनील झा और विशाल चौधरी एक दूसरे से कनेक्टेड हैं। उनके बीच व्यापारिक समझौते भी हैं। अनील झा पूजा सिंघल के पति अभिषेक के पिता जेपीएसी पदाधिकारी कामेश्वर झा का आदमी है। उनका रियल इस्टेट का भी कारोबार है। दोनों मिलकर सरकारी ठेके भी लेते थे। जिसमें पूजा सिंघल उनकी मदद करती थी। कोरोना काल में दोनों के फर्म को किट सप्लाई का टेंडर मिला था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...