1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Ukraine Russia Conflict : यूक्रेन में रूस के हमले में भारत ने गंवाया अपना एक छात्र, यूक्रेन-रूस के बीच दूसरे दौर की आज होगी बातचीत

Ukraine Russia Conflict : यूक्रेन में रूस के हमले में भारत ने गंवाया अपना एक छात्र, यूक्रेन-रूस के बीच दूसरे दौर की आज होगी बातचीत

रूस ने यूक्रेन पर हमलों की रफ्तार बढ़ाई, रूस का दावा- क्लस्टर और वैक्यूम बम का इस्तेमाल नहीं किया। वहीं यूक्रेन बनेगा यूरोपीय यूनियन का सदस्य

By Nirmala 
Updated Date

कीव, 2 मार्च। यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के छठे दिन की लड़ाई में एक भारतवासी छात्र की मौत हो गई। मंगलवार को यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव पर रूस ने जोरदार हमला किया, जिसमें एक भारतीय छात्र को अपनी जान गंवानी पड़ी। दिनभर जोरदार युद्ध के साथ यूक्रेन की अंतरराष्ट्रीय समर्थन जुटाने की कोशिशें भी चलती रहीं। इसी बीच यूक्रेन अब जल्द ही यूरोपीय यूनियन का सदस्य बन जाएगा, क्योंकि इस संबंध में यूक्रेन का आवेदन स्वीकार कर लिया गया है। इसके साथ ही बुधवार को रूस-यूक्रेन वार्ता का दूसरा दौर होने की बात भी सामने आई है। रूस ने क्लस्टर और वैक्यूम बम का इस्तेमाल करने से इनकार किया है।

पढ़ें :- युद्ध का 21वां दिन : डोनबास में यूक्रेनी सैनिको की गोलाबारी, मारियुपोल में रूसी सैनिकों ने लोगों को बनाया बंधक

रूसी सेना का प्रमुख यूक्रेनी शहरों के प्रशासनिक तंत्र पर सीधे हमला

उधर मंगलवार को यूक्रेन पर रूसी हमले की तीव्रता बढ़ाई गई। अब रूसी सेनाएं प्रमुख यूक्रेनी शहरों के प्रशासनिक तंत्र पर सीधे हमला कर रही हैं। मंगलवार को रूसी सेना ने यूक्रेन के दूसरे सबसे बड़े शहर खारकीव पर ताबड़तोड़ हमले किये। रूसी सेना की एक मिसाइल ने सीधे खारकीव के प्रशासनिक मुख्यालय को निशाना बनाया। मिसाइल हमले में प्रशासनिक मुख्यालय भवन दो सेकंड में ध्वस्त हो गया। खारकीव के प्रमुख ओलेग सेनगुबोव ने भी प्रशासनिक इमारत गिरने की पुष्टि की है।

खारकीव में भारतीय छात्र नवीन की मौत

वहीं खारकीव पर हुए हमले में कर्नाटक के मूल निवासी भारतीय छात्र नवीन को भी जान गंवानी पड़ी। नवीन यूक्रेन में MBBS चतुर्थ वर्ष का छात्र था। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने मंगलवार दोपहर 3 बजे ट्वीट कर कहा कि अत्यंत दुख के साथ एक भारतीय छात्र के मारे जाने की पुष्टि की जाती है।

पढ़ें :- पोलैंड सीमा पर यूक्रेन के सैन्य प्रशिक्षण केंद्र पर रूस के हमले में 35 की मौत, दागीं 30 मिसाइलें

रूसी सेना ने राजधानी कीव को चारों तरफ से घेरा

इस दौरान रूसी सेना ने राजधानी कीव को चारों तरफ से घेर लिया है। यूक्रेन के दो शहरों में रूस ने मिसाइलों और तोपों से हमला कर उसकी सेना को भारी नुकसान पहुंचाया है। कीव की तरफ 64 किलोमीटर से भी लंबा सैन्य काफिला बढ़ता हुआ देखा गया है। इस बीच यूक्रेन को यूरोपियन यूनियन का सदस्य बनाने की औपचारिकताएं शुरू कर दी गयी हैं। यूरोपियन संसद ने यूक्रेन के सदस्यता के लिए किए गए आवेदन को स्वीकार कर लिया है।

UNHRC में वोटिंग से दूर रहा भारत

यूक्रेन पर रूसी हमले को लेकर संयुक्त राष्ट्र संघ और उससे जुड़े अन्य संगठन लगातार सक्रिय हैं। सभी संगठन प्रकारांतर से रूस पर दबाव बनाने की कोशिश कर रहे हैं। इसी क्रम में संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) ने यूक्रेन में मानवाधिकारों के हनन पर चिंता जाहिर करते हुए इस मसले पर आपात चर्चा का प्रस्ताव किया था। 47 देशों वाली संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में 29 देशों ने चर्चा का समर्थन किया, जबकि चीन और रूस सहित 5 देश खुलकर विरोध में आए। वहीं भारत सहित 13 देशों ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया। अब गुरुवार को 3 बजे चर्चा कराने का फैसला हुआ है।

6 लाख लोगों ने छोड़ा यूक्रेन

पढ़ें :- यूक्रेन में गोली लगने से घायल हरजोत सिंह वायुसेना के विशेष विमान से भारत रवाना

यूक्रेन पर रूस के हमले के बाद पिछले 6 दिन में 6 लाख से अधिक लोग यूक्रेन छोड़ चुके हैं। संयुक्त राष्ट्र संघ के मुताबिक यूक्रेन छोड़ने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है, जिससे पड़ोसी देशों पर बोझ तेजी से बढ़ रहा है। संयुक्त राष्ट्र संघ के मानवीय राहत मामलों में संयोजन और आपात सहायता मामलों के प्रमुख मार्टिन ग्रिफिथ्स ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्य देशों को आगाह किया कि हताहत आम नागरिकों की संख्या और बुनियादी ढांचे को पहुंची क्षति बेहद चिंताजनक है। बड़ी संख्या में शरणार्थी यूक्रेन से अन्य यूरोपीय देशों का रुख कर रहे हैं और उनके मेजबान देशों पर बोझ बढ़ने की सम्भावना है।

सुरक्षा परिषद से बाहर हो सकता है रूस

तो वहीं यूक्रेन पर हमले के चलते पश्चिमी देशों की ओर से लगातार प्रतिबंधों का सामना कर रहे रूस को जल्द ही एक और बड़ा झटका लग सकता है। ब्रिटेन ने कहा है कि रूस को लेकर हमारे सामने विकल्पों में उसे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) से बाहर करना भी है। ब्रिटेन की गृह सचिव प्रीति पटेल ने कहा है कि यूक्रेन के एक लाख और शरणार्थी ब्रिटेन आ सकेंगे। पूर्वी यूरोप में युद्ध की वजह से वहां से भाग रहे इन लोगों की मदद करने के लिए दबाव बढ़ने के बाद ब्रिटेन ने ये ऐलान किया है।

जेलेंस्की ने कहा- साबित करें आप हमारे साथ

यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने यूरोपियन संसद को संबोधित करते हुए यूरोपियन यूनियन से साबित करने के लिए कहा कि वो यूक्रेन के साथ हैं। उन्होंने कहा कि यूक्रेनी लोग अपनी भूमि के लिए और अपनी स्वतंत्रता के लिए लड़ रहे हैं। देश के सभी शहरों को अलग-अलग हिस्सों को रूसी सैनिकों के आने की वजह से ब्लॉक कर दिया गया है। जेलेंस्की ने यूक्रेनी संसद के अध्यक्ष रुस्लान स्टीफनचुक के साथ यूरोपियन संसद के एक असाधारण सत्र के दौरान भाषण दिया। सत्र के दौरान जेलेंस्की को सभी सांसदों ने खड़े होकर सम्मान दिया।

यूक्रेन का दावा- मार गिराए 5700 रूसी सैनिक

पढ़ें :- यूक्रेन में मारे गए छात्र नवीन शेखरप्पा का शव लाया जाएगा भारत

वहीं रूस के साथ चल रहे युद्ध को लेकर यूक्रेन ने बड़ा दावा किया है। यूक्रेन ने कहा है कि उसने अब तक रूस के 5700 सैनिकों को मार गिराया है। इतना ही नहीं यूक्रेन ने ये भी दावा किया उसने रूसके 22 मिसाइल लॉन्चर और 5 एयर डिफेंस सिस्टम को तबाह कर दिया है। इसके अलावा यूक्रेन ने दावा किया है कि उसने 200 रूसी सैनिकों को बंधक बनाया है। यूक्रेन ने कहा है कि उसने रूस के 29 जेट और 29 हेलिकॉप्टर मार गिराए हैं। हालांकि रूस ने यूक्रेन के दावे को झूठा बताया है। वहीं क्लस्टर और वैक्यूम बम के इस्तेमाल पर रूस ने कहा है कि उसने क्लस्टर और वैक्यूम बम का इस्तेमाल नहीं किया है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...