1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. Cabinet Decisions : ग्रीन एनर्जी कॉरिडोर के तहत 7 राज्यों में ट्रांसमिशन सिस्टम तैयार करने की परियोजना को मंजूरी

Cabinet Decisions : ग्रीन एनर्जी कॉरिडोर के तहत 7 राज्यों में ट्रांसमिशन सिस्टम तैयार करने की परियोजना को मंजूरी

5 सालों की परियोजना पर लगभग 12,000 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इससे 10750 सर्किट किलोमीटर ट्रांसमिशन लाइन का निर्माण होगा।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

नई दिल्ली, 06 जनवरी। केंद्र सरकार ने ग्रीन एनर्जी कॉरिडोर के दूसरे चरण के तहत 7 राज्यों में 20 गीगा वाट के नवीकरणीय ऊर्जा ट्रांसमिशन सिस्टम तैयार किए जाने को मंजूरी दी है। 5 सालों की परियोजना पर लगभग 12,000 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इससे 10750 सर्किट किलोमीटर ट्रांसमिशन लाइन का निर्माण होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में गुरुवार को केंद्रीय मंत्रिमंडल ने प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

पढ़ें :- Jharkhand : देवघर में नवनिर्मित एयरपोर्ट को मिला एरोड्रम का लाइसेंस, पीएम मोदी 12 जुलाई को करेंगे एयरपोर्ट का उद्घाटन

मंत्रिमंडल के फैसलों की जानकारी देते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि इस परियोजना के तहत गुजरात, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, केरल, राजस्थान, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश में ग्रिड इंटीग्रेशन और पावर इवेक्युएशन का काम किया जाएगा।

इस परियोजना में कुल 12,031 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है। इसमें केंद्रीय वित्तीय सहायता परियोजना खर्च की 33 प्रतिशत यानी 3970.34 करोड़ होगी।

पढ़ें :- BRICS Summit 2022 : ब्रिक्स देशों के सहयोग से नागरिकों को मिल रहा है लाभ, पीएम मोदी ने कहा- ब्रिक्स के न्यू डेवलपमेंट बैंक की सदस्यता बढ़ी

परियोजना के फायदे

परियोजना से साल 2030 तक अक्षय ऊर्जा इंस्टॉल्ड क्षमता को 450 गीगाबाइट किए जाने के लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी। इससे लंबी अवधि के लिए ऊर्जा सुरक्षा सुनिश्चित होगी। साथ ही पर्यावरण अनुकूल विकास होगा और बड़े स्तर पर प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तरीके से रोजगार सृजन होगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...