1. हिन्दी समाचार
  2. बिहार
  3. जीतन राम मांझी पर लगा गंभीर आरोप, बेगूसराय में मुकदमा दर्ज

जीतन राम मांझी पर लगा गंभीर आरोप, बेगूसराय में मुकदमा दर्ज

ब्राह्मण परिषद बेगूसराय के जिलाध्यक्ष कृष्ण मोहन झा ने बेगूसराय व्यवहार न्यायालय के प्रभारी सीजेएम धीरेंद्र कुमार पांडेय के न्यायालय में जीतन राम मांझी के विरुद्ध न्यायालय में परिवाद पत्र दायर किया गया है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

बेगूसराय : ब्राह्मण समाज एवं हिंदू देवी-देवताओं के विरुद्ध अपमानित टिप्पणी करने को लेकर गुरुवार को बेगूसराय न्यायालय में पूर्व मुख्यमंत्री और हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी पर मामला दर्ज कराया गया है। ब्राह्मण परिषद बेगूसराय के जिलाध्यक्ष कृष्ण मोहन झा ने बेगूसराय व्यवहार न्यायालय के प्रभारी सीजेएम धीरेंद्र कुमार पांडेय के न्यायालय में जीतन राम मांझी के विरुद्ध न्यायालय में परिवाद पत्र दायर किया गया है।

पढ़ें :- युवाओं के लिए अच्छी खबर, बिहार में जल्द ही होगी 45 हज़ार शिक्षकों की भर्ती

गुरुवार को प्रभारी सीजेएम के न्यायालय में इस परिवाद पत्र की सुनवाई कर विचारण के लिए न्यायिक दंडाधिकारी सुनील कुमार के न्यायालय में स्थानांतरित कर दिया गया। मामले की अगली सुनवाई 18 जनवरी को होगी, कोर्ट अगर एक्शन ले लेगी तो जीतन राम मांझी की मुश्किलें काफी बढ़ सकती हैं तथा उन्हें बेगूसराय न्यायालय में हाजिर होना होगा। परिवादी की ओर से भाजपा नेता अधिवक्ता ऋषिकेश पाठक ने न्यायालय में परिवादी का पक्ष रखा। पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी पर आरोप लगाया है कि 18 दिसंबर 2021 को पटना में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ब्राह्मण एवं हिंदू-देवी देवताओं के विरुद्ध अपमानित टिप्पणी किया।

ब्राह्मण परिषद के जिलाध्यक्ष कृष्ण मोहन झा का कहना है कि जीतन राम मांझी ने एक संवैधानिक पद पर रहते हुए जिस तरह की अपमानजनक टिप्पणी किया है, यह कलंकित कारनामा है, जघन्य अपराध है। खास जाति और देवी-देवताओं के खिलाफ टिप्पणी करने वाले जीतन राम मांझी के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया जाए, त्वरित कानूनी कार्रवाई हो।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...