Booking.com

राज्य

  1. हिन्दी समाचार
  2. झारखंड
  3. झारखंड में मुख्यमंत्री पर लगे आरोपों के बाद, सत्ताधारी पार्टी के प्रतिनिधियों ने की राज्यपाल से मुलाक़ात

झारखंड में मुख्यमंत्री पर लगे आरोपों के बाद, सत्ताधारी पार्टी के प्रतिनिधियों ने की राज्यपाल से मुलाक़ात

ज सत्ताधारी पार्टी के प्रतिनिधियों ने आज राज्यपाल रमेश बैस से मुलाकात की, जिसमें कॉन्ग्रेस, आरजेडी और झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता शामिल थे। झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता और प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने रघुबर दास की प्रेस वार्ता के संबंध में जवाब देते हुए कहा कि भाजपा का काम सिर्फ आरोप लगाना है।

By Akash Singh 

Updated Date

झारखंड की सियासत में आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। आज पूर्व मुख्यमंत्री रघुबर दास की प्रेस वार्ता के बाद राज्य में सियासत और गर्म होती नजर आ रही है। आपको बता दें आज प्रेस वार्ता में रघुबर दास ने हेमंत सरकार पर जम कर हमला बोला था और सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाए थे।

पढ़ें :- झारखंड की सैर [ इंडिया वायस विश्लेषण ]

जिसके बाद आज सत्ताधारी पार्टी के प्रतिनिधियों ने राज्यपाल रमेश बैस से मुलाकात की, जिसमें कॉन्ग्रेस, आरजेडी और झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता शामिल थे। झारखंड मुक्ति मोर्चा के नेता और प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने रघुबर दास की प्रेस वार्ता के संबंध में जवाब देते हुए कहा कि भाजपा का काम सिर्फ आरोप लगाना है। आगे उन्होंने कहा विपक्षी दलों ने जो भी आरोप लगाए हैं उसकी विवेचना होगी। विपक्षी दल राज्य सरकार को अव्यवस्थित करने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सभी नियम और कानून पहले की तरह ही लागू रहेंगे किसी भी प्रावधान का उल्लंघन नहीं होने दिया जाएगा। भारतीय जनता पार्टी के लोग खाली और बेरोजगार हैं इसलिए वह मनगढ़ंत कल्पनाएं कर रहे हैं। आगे उन्होंने कहा कि तत्वों की विवेचना होगी जिसके बाद सत्य अपने आप सामने आ जाएगा।

झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक सुदिव्य कुमार सोनू ने भी राजभवन से बाहर आने के बाद मीडिया से बात करते उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के द्वारा दिए गए छह बिंदुओं का जिक्र करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री के खिलाफ जो भी आरोप लगाए जा रहे हैं वह प्रभावी नहीं है। आगे उन्होंने कहा की ऑफिस ऑफ प्रॉफिट एक्ट 9 a के तहत मुख्यमंत्री का माइनिंग लीज वाला मामला नहीं आता है। इस बात की जानकारी हमने महामहिम को भी दी है। आरोप लगाना और प्रमाणित करना सिक्के के दो अलग-अलग पहलू हैं। झारखंड में जब से झामुमो की सरकार बनी है भारतीय जनता पार्टी और बाबूलाल मरांडी जी तब से ही यही भ्रम फैलाने का काम कर रहे हैं कि सरकार गिर जाएगी। लेकिन सरकार को गिराना इतना आसान नहीं है सरकार सदन में विधायक दल के समर्थन से चलती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...
Booking.com
Booking.com
Booking.com
Booking.com