1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. हरीश रावत ने दी भाजपा को चेतावनी, खुद को पांडव तो भाजपा को बताया कौरव, पढ़ें क्या है पूरा मामला ?

हरीश रावत ने दी भाजपा को चेतावनी, खुद को पांडव तो भाजपा को बताया कौरव, पढ़ें क्या है पूरा मामला ?

चुनाव नजदीक है ऐसे में चुनावी सरगर्मी और बयानबाजी भी जोरों पर हैं। इसी क्रम में हरीश रावत ने भाजपा पर तीखा हमला बोलते हुए भाजपा को कौरव तो खुद को पांडव की संज्ञा दे डाली है।

By इंडिया वॉइस 
Updated Date

Uttarakhand Assembly Election 2022 : पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत फिर से लालकुआं विधानसभा में अपने चुनाव प्रचार अभियान में जुट गए हैं। लालकुआं पहुंचते ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका गर्मजोशी के साथ स्वागत किया, साथ ही हरीश रावत ने कहा कि इस बार लोकतांत्रिक महाभारत में हरीश रावत भाजपा के चक्रव्यूह में अभिमन्यु की तरह नहीं बल्कि अर्जुन की तरह लड़ेंगे और पांडवों की विजय होगी।

पढ़ें :- Uttarakhand : पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत सहित कई कांग्रेस उम्मीदवार नहीं कर पाए मतदान, जानें क्या है वजह ?

भाजपा के चक्रव्यूह में अभिमन्यु नहीं हैं, अर्जुन

हरदा ने कहा कि लोकतांत्रिक महाभारत में कुछ दिन का युद्ध हो चुका है। कौरव पक्ष मेरे ही कुछ अपनों की जिद और समझ के दूषितपन के कारण कौरव पक्ष प्रारंभिक चरण में मेरे चारों ओर घेरा बनाता दिख रहा है। मगर एक बात याद रखिये इस समय, भाजपा के चक्रव्यूह में अभिमन्यु नहीं हैं, अर्जुन है और यहां लालकुआं में अर्जुन के साथ कृष्ण भी हैं।

खुद को पांडव तो भाजपा को बताया कौरव 

युधिष्ठिर भी हैं, भीमसेन भी हैं, नकुल-सहदेव भी हैं और रथी-महारथी भी हैं तो मां कुंती के रूप में मेरी माताओं-बहनों का आशीर्वाद भी है। मैं हर मोर्चे पर पहुंचने का प्रयास करूंगा, प्रकृति के बाधाओं के बावजूद भी चाहे मुझे सड़क मार्ग से रात-रात जाकर के ठंड से सिकुड़ते लोगों से गुहार लगानी पड़े मैं गुहार लगाऊंगा। क्योंकि उत्तराखंड और उत्तराखंडियत के लिए, संस्कृति और धर्म की रक्षा के लिए पांडवों की जीत आवश्यक है।

पढ़ें :- उत्तराखंड में दोपहर तीन बजे तक 49 फीसदी से अधिक हुआ मतदान, आपस में भिडे़ भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ता

 

 

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook, YouTube और Twitter पर फॉलो करे...